Categories
Entertainment Other

खूबसूरती और ताकत के बल पर एक रानी जो मर्दों के साथ एक रात गुजारनें के बाद सुबह कर देती थी………

खबरें

स्त्री को घर की लक्ष्मी के रूप में माना जाता है बताया जाता हैं की स्त्रियों की इ’ज्जत जहां होती है वहां हमेशा खुशहाली रहती है। लेकिन पुराने जमाने में बहुत सी ऐसी अ’य्या’श रानियों के नाम दर्ज हैं

स्त्री को घर की लक्ष्मी के रूप में माना जाता है, बताया जाता हैं की स्त्रियों की इज्जत जहां होती है वहां हमेशा खुशहाली रहती है। लेकिन पुराने जमाने में बहुत सी ऐसी अ’य्या’श रा’नियों के नाम दर्ज हैं, जिन्होंने अपनी खू’बसूरती व ताकत के बल पर अपना नाम इ’तिहा’स में लिखा है, लेकिन आज हम ऐसे रानी के करेंगे जिनका नाम आ’मी हैं। माना जाता है कि रानी अ’मी’ना यु’द्ध कौ”शल में नि’पुण थी, यही वजह थी कि उन्होंने अपने सा’म्राज्य को बढ़ाने के लिए कई यु’द्धों में वि’जय हा’सिल किया, रा’नी ने अप’ने खू’बसूर’ती और ता’क़त का प्र’योग कर वहां कि’ले बं’दी से लेकर बि’ज’ने’स तक का वि’स्ता’र किया।

बताया जाता हैं की रा’नी अमी’ना का जन्म 1533 में कडू’ना के जा’ज़ा इला’के में हुआ था। उनकी मां का नाम रा’नी ब’कवा द हाबे था, जो आ’मी के दादा हा’बे ज़’ज्जा’ऊ नो’हिर की मृ’त्यु के बाद से ज़ा’ज़ा’ऊ सा’म्राज्य की देख-रेख कर रहीं थीं। अपने शास’नका’ल में आ’मी ने 20,000 फै’जि’यों की वि’शा’ल आ’र्मी का ने’तृत्व किया था। 

अ’मी’ना 20 हजार की सं’ख्या वाली वि’शाल से’ना का ने’तृत्व किया करती। रानी अमी’ना ने ज्यादा’तर यु’द्ध व्या’पार मा’र्ग के वि’स्तार में अ’ड़च’न पैदा करने वाले दु’श्म’नों के वि’रुद्ध किया। और इन यु’द्धों में जीत प्रा’प्त करने का ही यह नती’जा था कि उन्होंने कई सारे जीते हुए श’हरों का वि’लय अपने रा’ज्य में कर लिया। 

इनके बारे में माना जाता है कि अ’मी’ना ह’मेशा अपने द्वारा ह’राये हुए राज्य के किसी एक सै’निक के साथ एक रात गु’जारा करती थीं। जिसे वह सुबह होने के बाद मा’र डा’ला करती थीं. ताकि वह कभी अ’मी’ना की क’हानी किसी को नहीं बता सके। उनके बारे में कहा तो ये भी जाता है कि उन्होंने सिर्फ इ’स’लिए शा’दी नहीं की, क्योंकि उन्हें अपनी श’क्ति के खो’ने का ड’र था।