Categories
Other

BREAKING: राके’श टि’कैत ने किया बड़ा ऐ’लान, 40 लाख ट्रै’क्टरों के साथ पूरे देश में…

खबरें

कि’सान आं’दो’लन की आग एकबार और तेज हो सकती है। कुछ देर पहले कि’सा’न ने’ताओं ने ऐ’लान किया है कि वो 6 फरवरी को पूरे देश में आं’दोल’न करेंगे। इसके अलावा कि’सान ने’ताओं से च’क्का जा’म करने की बात भी कही है। भा’रती’य कि’सान यूनियन नेता बलबीर सिंह राजेवा’ल ने ऐ’लान करते हुए कहा कि नए कि’सा’न का’नू’नों के खि’ला’फ अब किसान पूरे देश में आं’दो’लन करेंगे। उन्होंने कहा कि 6 फरवरी की दोपहर 12 से 3 के बीच च’क्का जा’म किया जा’एगा।

6 फरवरी को च’क्का जा’म
कि’सान मो’र्चा के ने’तृत्व में दि’ल्ली की सी’माओं पर कि’सा’नों का आं’दो’लन दो महीने से जारी है। तीनों कृ’षि का’नून को र’द्द करने के लिए केंद्र सरकार पर दबा’व बनाने के लिए संयुक्‍त किसा’न मो’र्चा का यह बड़ा ऐ’लान माना जा रहा है। किसानों का कहना है कि सरकार कृषि बिलों को वा’पस करने के तै’यार नहीं है। ऐसे में हम कि’सा’नों का ल’गाता’र प्र’दर्श’न जारी रहेगा। ज’रूर’त प’ड़ने हम और अधिक आं’दो’ल’न को आगे बढ़ाएंगे। देशभर के कि’सा’नों का समर्थन मिल रहा है। उ’म्मी’द है कि 6 फरवरी को च’क्का जा’म का असर दे’शभ’र में देखने को मिलेगा।

‘हमें बज’ट से कोई मतलब नहीं’
टीकरी और सिं’घु बॉ’र्डर पर प्र’दर्शन कर रहे किसा’नों ने कहा कि उन्हें केवल कृ’षि का’नूनों को वापस लिए जाने की चिं’ता है और कें’द्रीय बज’ट में कृषि क्षेत्र को क्या दिया गया है, इससे उन्हें कोई फ’र्क नहीं पड़’ता। सिं’घु बॉ’र्डर पर ज्या’दा’तर कि’सा’न बज’ट से अन’जान हैं। कि’सा’नों का कहना है कि प्रदर्शन स्थलों पर इं’टर’नेट उप’लब्ध नहीं है, इसलिए उन्हें इसके बारे में कुछ नहीं पता नहीं है। कि’सा’नों का कहना है कि हमें सिर्फ बिल वा’पसी से म’त’लब है, हम तीनों कृषि बिलों की वा’पसी क’राकर ही घर जाएंगे।

सिं’घु बॉ’र्डर पर ब’ढ़ाई गई पु’लिस
सिं’घु बॉ’र्डर पर सोमवार को और अ’धिक सि’क्यॉरि’टी बढ़ा दी गई है। अन्य दिनों की तरह ही सोमवार को हर बै’रि’के’ड्स पर तैनात फोर्स ए’क्टिव दिखी। दिल्ली की ओर से 1.5 किलोमीटर तक आ’मलो’गों की आ’वाजा’ही पर पूरी त’रह रो’क लगा दी गई है। बॉ’र्डर पूरी तरह से सी’ल होने की व’जह से आ’सपा’स के लोग का’फी प’रे’शा’न हैं