Categories
Other

26 सालों से फिल्मों से दूर है ये अभिनेत्री, जी रही हैं महारानियों जैसी लाइफ़, देखें तस्वीरें

बॉलीवुड इंडस्ट्री एक ऐसी जगह है जंहा पहचान बनाना बहुत मुश्किल काम है , और ऐसे कई कलाकार भी है जिन लोगों ने बहतरीन एक्टिंग कि वजह से काफी लोगों के दिलों पर राज किया है, ऐसे बहुत से कलाकार है जिन्होंने कम समय में बड़ी पहचान बनाई लेकिन कुछ वक़्त में वह इंडस्ट्री से गायब भी हो गए। आज हम आपको एक ऐसी अभिनेत्री के बारे में कुछ बाते बताने जा रहे है की फिल्मों से दूरी बनाने के बाद उनकी ज़िन्दगी कैसे गुज़र रही है ।

आप में बहुत से लोगों ने सन् 1990 में रिलीज़ हुई फिल्म स्वर्ग तो देखी ही होगी कम से कम नाम तो सबने लगभग सुना ही होगा एक ऐसी ही अभिनेत्री के बारे में बात करने जा रहे है | फिल्म स्वर्ग जिसमे राजेश खन्ना,गोविंदा,जूही चावला और भी कई कलाकार थे , तो हम आपको इस फिल्म कि एक एक्ट्रेस के बारे में बताने जा रहे जिन्होंने फिल्म एक अहम और बहतरीन किरदार निभाया है।

इस एक्ट्रेस ने फिल्म में गोविंदा कि भाभी जानकी कुमार का किरदार निभाया था , जिनका असली पहचान एक्ट्रेस माधवी है । माधवी शादी के बाद से अब तक महारानियों कि तरह अपनी ज़िन्दगी बिता रही है , उनका जन्म 14 सितम्बर ,1962 को हैदराबाद में हुआ था । यह उन एक्ट्रेसस में एक है जिन्होंने अपने करियर की शुरुआत साउथ फिल्मों से की थी और उसके बाद बॉलीवुड में कदम रखा था ।

माधवी पिछले 26 सालों से फिल्मों से दूर हैं, वह अब अपने हसबैंड और बेटियों के साथ न्यूजर्सी में रहती है। माधवी ने अमिताभ बच्चन के साथ फिल्म ‘गिरफ्तार’ में काम किया था, जिसका गाना ‘धूप में निकला न करो रूप का रानी..” बेहद हिट रहा था. माधवी ने अमिताभ बच्चन के साथ फिल्म ‘अंधा कानून’ और ‘अग्निपथ’ में भी काम किया था।माधवी ने 1981 में अपने बॉलीवुड करियर कि शुरुआत फिल्म ‘एक दूजे के लिए’ से की थी। इसके बाद उन्होंने ‘अंधा कानून’ (1983), ‘मुझे शक्ति दो’ (1984), ‘अग्निपथ’ (1990), ‘मिसाल’ (1985), ‘गिरफ्तार’ (1985), ‘लोहा’ (1987), ‘सत्यमेव जयते’ (1987), ‘प्यार का मंदिर’ (1988), ‘स्वर्ग’ (1990), ‘जख्म’ (1989), ‘हार जीत’ (1990) सहित कई फिल्मों में काम किया। माधवी सन 1994 में आई फिल्म ‘खुदाई’ में आखिरी बार दिखीं थीं.

ऐसा पता चला हैं की एक्ट्रेस माधवी के धार्मिक गुरु स्वामी रामा ने उनकी मुलाक़ात फार्मास्यूटिकल बिजनेसमैन राल्फ शर्मा से करवाई थी, उन दोनों की मुलाकात हिमालय इंस्टिट्यूट में हुई थी। माधवी से जुड़ी एक यह बात भी पता चली है की उनकी शादी उनके धार्मिक गुरु रामा स्वामी ने ही करवाई थी , और दोनों की शादी 14 फ़रवरी, 1996 में हुई थी।

माधवी के पति राल्फ शर्मा का काम न्यू जर्सी में ही था इसलिए शादी के बाद वे वही शिफ्ट हो गई थी । माधवी 3 बच्चों की माँ बन चुकी है। माधवी की 3 बेटियां है जिनके नाम प्रिन्सल्ला, टिफ्नी और एवेलीन है ।