Categories
News

इ’स का’म को क’रने से प’हले ना खा’एं मी’ठा, व’रना क’भी न’हीं ब’न पा’एंगे.. औ’र हों’गी ब’ड़ी सम’स्या…

हिंदी खबर

क्रिस’मस सर्दि’यों के बी’च पड़’ने वा’ला ए’क त्योहा’र है. कि’सी भी अ’न्य त्यो’हार की तर’ह इस’में भी त’रह त’रह की ची’जों का से’वन कि’या जा’ता है, जिस’में मी’ठा भी भ’रपूर हो’ता है. य’दि लिमि’ट में इ’न मी’ठे खा’द्य प’दार्थों का सेव’न ना कि’या जा’ए तो य’ह स्वा’स्थ्य स’म्बन्धी स’मस्याओं को बु’लावा दे’ने की तर’ह है. ऐ’से में कु’छ छो’टी छो’टी ची’जें क’रके ह’म मी’ठे के ओव’रडोज से ब’च स’कते हैं.

सामा’न्य खा’नपान का रूटी’न अप’नाएं- त्यो’हार के दौरा’न उत्सा’ह ए’वं ज्या’दा का’म के का’रण ह’म ए’क सा’मान्य रूटी’न ए’वं सा’मान्य खान’पान न’हीं क’र पा’ते हैं, इ’सी कार’ण से क’ई बा’र आव’श्यकता से ज्या’दा मा’त्रा में खा ले’ते हैं. क्रिस’मस के दौ’रान प’ल्म के’क, र’म के’क, चॉक’लेट, र’म बॉ’ल ए’वं अ’न्य स्वी’ट डि’शेज का से’वन ब’ढ़ जा’ता है. य’दि अ’पने पू’रे दि’न के डा’इट को कि’सी सा’मान्य दि’न के अनु’सार लि’या जा’ए, तो इ’न स्वी’ट डिशे’ज की मा’त्रा ए’वं क्रे’विंग को भी क’म कि’या जा स’कता है.

myUpchar के अनु’सार, जो लो’ग मी’ठे खा’द्य या पे’य पदा’र्थों से छुट’कारा पा’ना चाह’ते हैं उ’नके लि’ए इ’स आ’दत को रा’तोंरात बद’लना मुश्किल’भरा हो सक’ता है, ले’किन धी’रे धी’रे इस’के सेव’न को क’म ज’रूर कि’या जा सक’ता है. इस’के लि’ए शु’रु में आ’प चा’हें तो चा’य या कॉ’फी में ची’नी की मा’त्रा क’म क’रें औ’र कु’छ दि’न बा’द ची’नी को बिल्किु’ल क’र दें.

मी’ठे का ना क’रें ला’लच- क्रिस’मस के दौ’रान मि’लने वा’ले स्वी’ट डि’श का इंत’जार पू’रे सा’ल रह’ता है, ऐ’से में ह’में ह’र तर’ह की डिशे’ज का आ’नंद ले’ने का म’न कर’ता है. इ’न डिशे’ज में का’फी ज्या’दा मा’त्रा में कै’लोरी, शु’गर, फै’ट आ’दि हो’ता है, जिस’का ज्या’दा मा’त्रा में सेव’न कर’ने से व’जन औ’र कोले’स्ट्रॉल बढ़’ता है. इसलि’ए इ’न मी’ठी ची’जों का से’वन जि’तना हो स’के उत’ना क’म क’रें.

सामा’न्य खा’नपान का रूटी’न अप’नाएं- त्यो’हार के दौरा’न उत्सा’ह ए’वं ज्या’दा का’म के का’रण ह’म ए’क सा’मान्य रूटी’न ए’वं सा’मान्य खान’पान न’हीं क’र पा’ते हैं, इ’सी कार’ण से क’ई बा’र आव’श्यकता से ज्या’दा मा’त्रा में खा ले’ते हैं. क्रिस’मस के दौ’रान प’ल्म के’क, र’म के’क, चॉक’लेट, र’म बॉ’ल ए’वं अ’न्य स्वी’ट डि’शेज का से’वन ब’ढ़ जा’ता है. य’दि अ’पने पू’रे दि’न के डा’इट को कि’सी सा’मान्य दि’न के अनु’सार लि’या जा’ए, तो इ’न स्वी’ट डिशे’ज की मा’त्रा ए’वं क्रे’विंग को भी क’म कि’या जा स’कता है.