Categories
News

साव’धान: कोरो’ना की तीसरी लह’र बच्चों के लिए होगी जान’लेवा, डॉक्टरों ने किया अल’र्ट, जानें तुरंत….

हिंदी खबर

नई दिल्‍ली: देश में को’रोना महामा’री की दूसरी लह’र बे’काबू होती जा रही है. हर दिन कोरो’ना संक्र’मित मरी’जों की सं’ख्‍या ब’ढ़ रही है. एक ओर जहां देश कोरो’ना की दूसरी ल’हर ने कोह’राम म’चा रखा है, वहीं विशेषज्ञों ने अभी से तीसरी ल’हर की आ’शंका जता दी है. विशेषज्ञों के मुता’बिक कोरो’ना की तीसरी लहर ब’च्‍चों के लिए जानले’वा साबित हो सकती है. विशेषज्ञों के मु’ताबिक देश में कोरो’ना की पहली लहर बु’जुर्गों के लिए ख’तरा बनी थी जबकि दूसरी ल’हर युवा आबा’दी के लिए खतर’नाक साबित हुई थी. विशेषज्ञों की मानें तो को’रोना की तीसरी ल’हर बच्‍चों के लिए जान’लेवा सा’बित हो सकती है. विशेषज्ञों ने आशं’का जताई है कि भारत में को’रोना की तीसरी लह’र सितंबर तक आ सकती है.

बाल चि’कित्सा और संक्रा’मक रो’गों के विशेषज्ञों का कहना है कोरो’ना की तीसरी ल’हर को देखते हुए बच्चों के टीका’करण कार्य’क्रम को शुरू कर देना चाहिए. अगर सरकार ने इस संबं’ध में ज’ल्‍दी कोई क’दम नहीं उठाए तो कोरो’ना की तीसरी लहर बच्‍चों के लिए घात’क साबित हो सकती है. सं’क्रामक रो’ग विशेषज्ञ डॉ. नितिन शिंदे ने कहा, ऐसे सम’य में जब को’रोना की तीसरी लह’र के बारे में आशं’का जताई गई है, ऐसे समय में टीका न लग’वाने वाले बच्‍चों में खत’रा ब’ढ़ जाएगा. बता दें कि को’रोना वैक्‍सी’न को इस समय को’रोना से बचने का सबसे बड़ा हथि’यार माना जा रहा है.

विशेषज्ञों ने कहा कि कोरो’ना का नया सं’क्रमण भले ही बच्‍चों में किसी भी तर’ह की गंभी’र स’मस्‍या पै’दा नहीं कर रहा हो लेकिन कोरो’ना की दूसरी ल’हर में बच्‍चे बी’मार जरूर हो रहे हैं. पहली लहर की अपे’क्षा दूसरी लहर में मुंबई पुणे जैसे शहरों में बच्चें ज्यादा संक्र’मित हुए हैं. ऐसे में अगर तीसरी लह’र आई तो सबसे ज्‍यादा खतरा इन्‍हीं बच्‍चों को होगा. ऐसे में हमें बच्‍चों के लिए अब टी’के की आवश्‍य’कता होगी.