Categories
Other

Delhi Violence: इन 2 दोस्तों की दुश्मनी बनी दिल्ली में भड़के दंगों की असली वजह

राजधानी दिल्ली में इन दिनों बहुत ही गंभीर माहौल बना हुआ है, आपको बता दें कि नागरिकता संसोधन बिल (CAA) को लेकर दिल्ली में अब तक 42 लोगों को मौ’त हो गई है, बताते चलें कि इस हिं’सा में मुख्य रूप से दो आदमी सामने नजर आए है.

एक भाजपा के कपिल मिश्रा और दुसरे आप के ताहिर हुसैन है. जानकारी के मुताबिक कहा जा रहा है कि दिल्ली में हिं’सा भड़काने में इन दो नेता का बहुत बड़ा योगदान रहा है और हम आपको बता दें कि शायद आपको पता नहीं होगा कि एक समय ये दोनों नेता एक दुसरे के बेहद अच्छे दोस्त हुआ करते थे.

आपको बता दें कि दोनों इतने अच्छे दोस्त थे कि एक का दफ्तर दुसरे के मकान में ही हुआ करता था, बताते चलें कि दिल्ली हिं’सा में जहां कपिल मिश्रा पर लोगों को उकसाने का आरोप है, वहीं तहीर हुसैन पर दं’गों में शामिल होने के आरोप हैं. आपको बता दें कि कपिल मिश्रा ने एक वीडियो ट्वीट किया था और लिखा था, कि आईबी अधिकारी अंकित शर्मा का ह’त्या’रा ताहिर हुसैन है, वहीं, ताहिर हुसैन ने कपिल मिश्रा पर लोगों को भ’ड़’काने का बड़ा आ’रो’प लगाया है।

लेकिन जानकारी के मुताबिक आपको बता दें कि एक वक्त था जब कपिल मिश्रा का दफ्तर हुसैन के मकान में था,बताते चलें कि चांदबाग के लोगों ने ये भी बताते हैं कि जब कपिल मिश्रा ने आप से विधायक का चुनाव ल’ड़ा था, तो ताहिर हुसैन ने उनकी मदद की थी, लेकिन जब से राजनीतिक दल बदले तब से दोनों की दोस्ती भी दु’श्म’नी में बदल गई।