Categories
Other

यूपी में मिला इतने टन सोना, भारत फिर बनेगा दुनिया का सबसे अमीर देश

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में एक सर्वे के मुताबिक सोनांचल गांव की पहाड़ियों में तीन हजार टन सोना दबे होने की जानकारी सामने आ रही है. आपको बता दें कि पिछले कई सालों से खनिज तत्वों की खोज में स्वर्ण पत्थर के साथ लोहा सहित कई अन्य तत्व भी मिलने की खबरें जमीन के भीतर छिपे विशाल खजाने की अनुमानित शक्ल सामने आ गई है. यूपी सरकार के खजाने में जमीन के भीतर से भारी राजस्व की राह खुल गई है. जानकारी के मुताबिक सोने की मौजूदा कीमत के हिसाब से इतने सोने का मूल्य करीब 12 लाख करोड़ रुपये का है.

आपको बता दें कि सोनभद्र की पहाड़ी में लगभग तीन हजार टन सोना दबा हुआ है. भू-भौतिकीय सर्वे की तरफ से सोनांचल की पहाड़ी में सोने के साथ लोहा सहित भारी मात्रा में दूसरे तथ्य भी दबे हैं. कई भू-भागों में हेलिकॉप्टर से भू-भौतिकीय सर्वे अभी चल रहे है. आपको बता दें कि इस सर्वेक्षण में विद्युती चुम्बकीय एवं स्पेक्ट्रोमीटर उपकरणों का प्रयोग किया जा रहा है.

जमीन के भीतर सोने के साथ बहुत कुछ
जानकारी के मुताबिक सोनभद्र के सोन पहाड़ी में 2943.26 टन और जिले के हल्दी ब्लॉक में 646.15 किलो सोना मिला है. सोनभद्र के भू-भाग में यूरेनियम वर्ग के अन्य खनिज तत्वों का भी पता चला है. बताते चलें कि जिले के छिपिया ब्लॉक में सिलेमिनाइट की दस मीलियन टन की अनुमानित मात्रा छिपी हुई है. इसी तरह जिले के पुलवर, सलईडीह ब्लॉक के कुछ भागों में इस सर्वे के दौरान एंडालुसाइट अब तक पाया गया है.

सटे हुए चार राज्यों के जिलों में भी चल रहा है सर्वे
सोनभद्र डीएम ने बताया कि परमाणु खनिज अन्वेषण एवं अनुसंधान निदेशालय, परमाणु ऊर्जा विभाग, भारत सरकार के लिए राष्ट्रीय भू-भौतिकीय अनुसंधान संस्थान (सीएसआईआर-एनजीआरआई), भारत सरकार द्वारा मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले, उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले, छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले एवं तथा झारखंड के गढ़वा जिले के आंशिक भू-भागों में हेलिकॉप्टर वाहित भू-भौतिकीय सर्वेक्षण किया जा रहा है।