Categories
Other

जानिए बांद्रा में अफवाह फैलाकर हजारों की भीड़ इकट्ठा करने वाला विनय दुबे आखिर कौन है!

कोरोना से बचने के लिए पीएम मोदी ने पूरे देश में लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया था, लेकिन इसके उलट मुंबई में ये अफवाह फैलाई गई कि दोपहर 3 बजे से ट्रेन खोली जायेगी. जिसकी वजह से बांद्रा रेलवे स्टेशन पर प्रवासी मजदूरों की भारी भीड़ इकट्ठा हो गई थी. ये सभी मजदूर घर जाने के लिए स्टेशन पर पहुंच गए.

इन मजदूरों को उम्मीद थी कि लॉकडाउन खत्म हो जाएगा. बाद में पुलिस की कार्रवाई के बाद भीड़ हट गई. लोगों को समझाया जा रहा है कि उन्हें कोई दिक्कत नहीं होगी और हर संभव मदद की जाएगी. आपको बता दें कि महाराष्ट्र के बांद्रा में अफवाह फैलाकर हजारों की भीड़ जमा कराने वाले आरोपी विनय दुबे को गिरफ्तार कर लिया गया है. बताते चलें कि विनय पर आरोप है कि उसने ही प्रवासी मजदूरों को अपने-अपने घर जाने के लिए उकसाया था.

पुलिस के मुतबिक विनय ने ही ये अफवाह फैलाया था कि ट्रेन चल रही है जिसके बाद बांद्रा स्टेशन पर जन सैलाब उमड़ पड़ा था. जानकारी के लिए आपको बता दें कि विनय के फेसबुक अकाउंट पर मिली जानकारी के मुताबिक वो नवी मुंबई का रहने वाला है. अपने फेसबुक अकाउंट के जरिए खुद को उद्यमी और सामाजिक कार्यकर्ता लिखता है. वियन दुबे एक फेसबुक पेज भी चलाता है. ‘चलो घर चलें’ नाम से विनय ने सोशल मीडिया पर एक मुहिम भी चलाई थी.

अपने पेज के जरिए विनय कई बार प्रशासन को चुनौती और चेतावनी भी दे चुका है. कुछ दिन पहले इसने अपनी एक पोस्ट में लिखा था, ”आज लिखित में देश की केंद्र सरकार, उत्तर भारत की राज्य सरकारों को चेतावनी पत्र दिया. 18 अप्रैल तक अगर दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को अपने घर पहुंचाने का प्रबंध नहीं हुआ तो उग्र आंदोलन किया जाएगा.” विनय के फेसबुक अकाउंट में अपलोड किए गए एक फोटो में वो महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राजठाकरे के साथ मंच साझा करता दिखाई दे रहा है।