Categories
Other

महिला दिवस: महिला की इस बात को सुनकर भावुक हो गए पीएम मोदी

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करके प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि योजना का लाभ उठाने वाले लोगों से बात की है. इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में पीएम मोदी ने कई बड़ी बातें कहीं. आपको तो पता ही है कि पीएम मोदी को दुनिया के सबसे संवेदनशील और जनस्पर्शी नेता के रूप में जाना जाता है. ऐसे कई मौकों आए है जब वो अपनी भावनाओं काबू नहीं कर पाए और रो दिए. आपको बता दें कि आज भी मोदी दिव्यांग दीपा शाह से बात करते हुए बहुत भावुक हो गए और रो पड़े. वहीं दीपा शाह ने भी मोदी के कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि मैंने भगवान को नहीं देखा लेकिन उनके रूप में आपको देखा है.

पीएम मोदी से क्या बोली महिला

आपको बता दें कि जनऔषधि योजना का लाभ पाने वाली दिव्यांग महिला दीपा शाह ने कहा, ‘मोदी जी मैं बोल नहीं पाती थी, दवाईयां बहुत महंगी आती थीं. पहले दवाईयां पांच हजार रुपये की आती थीं, लेकिन अब 1500 रुपये की ही आती हैं. आपने मेरी बहुत मदद की है. मुझे डॉक्टर ने जवाब दे दिया था, लेकिन आपके आशीर्वाद से मैं ठीक हो गई हूं.

अब मेरी दवाइयों पर कम पैसा खर्च होता है और बचे हुए पैसे से मैं अपना घर चलाती हूं. मैंने भगवान को नहीं देखा लेकिन उनके रूप में आपको देखा है.’ ये सुनकर प्रधानमंत्री भी भावुक हो गए. महिला दीपा शाह ने प्रधानमंत्री को ये भी बताया कि मुझे डॉक्टरों ने जवाब दे दिया था और कहा था मैं जिंदा नहीं रह सकती. अब न सिर्फ मैं जिंदा हूं, बल्कि मेरी जेनेरिक दवाओं की लागत भी कम हो गई.”

प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना पर बोले पीएम मोदी

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ये देश के हर व्यक्ति तक सस्ता और उत्तम इलाज पहुंचाने का संकल्प है. मुझे बहुत संतोष है कि अब तक 6 हज़ार से ज्यादा जन औषधि केंद्र पूरे देश में खुल चुके हैं. वीडियो कांफ्रेंस शुरू करने से पहले पीएम मोदी ने जन औषिधि संचालकों को बधाई दी. उन्होंने कहा कि, ‘आप सभी को दूसरे जन औषधि दिवस की बहुत-बहुत बधाई. आज सप्ताह भर से मनाए जा रहे जन औषधि सप्ताह का भी आखिरी दिन है. इस प्रशंसनीय पहल के लिए भी आप सबका बहुत-बहुत अभिनंदन.’